मंगलवार, 4 दिसंबर 2018

अकेलापन ...!

महान अमेरिकी मनोवैज्ञानिक अब्राहम मास्लो ने एक पिरामिड बनाया जिसको उन्होंने
पहला Self Actualization
दूसरा Esteem needs
तीसरा Social needs
चौथा Safty needs
और पाँचवा Physiological needs
इनको पाँच भागों में बाँटते हुए कहा कि मनुष्य हमेशा नीचे से ऊपर एक चीज़ पाने के बाद दूसरी चीज़ पाने के लियें प्रयत्नशील रहता है और यह तब तक चलता है जब तक उसे संपूर्णता का अहसास नहीं होता ! हम देखते है मनुष्य का जीवन इन पाँच ज़रूरतों के आसपास ही घूमता हुआ !
अकेलापन,रिक्तता,अपूर्णता ये कुछ ऐसे नकारात्मक शब्द है जो मनुष्य के जीवन में भौतिक ज़रूरतों की कमी,सुरक्षा की कमी,आत्मीय रिश्तों की या प्रेम की कमी,आत्मसम्मान की कमी,आत्मसिद्धि या बुद्धत्व की किसी न किसी कमी को दर्शाते है !

क्रमश ....

2 टिप्‍पणियां: