गुरुवार, 1 अगस्त 2013

"दो और दो पांच"

शिक्षा मन पर 
भार नहीं
अहंकार का
बोझ न हो 
चाहिए थी 
एक ऐसी ही 
पाठशाला मुझको 
खेल-खेल में 
समझाये सबको
मित्रों, 
जीवन भी एक 
खेल ही है 
कोई गोल करता है 
कोई आउट होता है 
ऐसा क्यों होता है ?
वैसा क्यों होता है ?
बेमानी सब तर्क है 
जीवन कोई गणित
है क्या ?
जिसे तर्कों से 
हल किया जा सके 
बिना प्रतिस्पर्धा के 
हार-जीत के बिना 
जीवन एक खेल 
है खिलाडियों का 
जिसमे दो और दो 
चार नहीं 
भी होते है   …

13 टिप्‍पणियां:

  1. गजब शब्दावली-
    शुभकामनायें आदरेया-


    एक एक ग्यारह भले, तिकड़म दो दो पाँच |
    जीवन भर संघर्ष कर, टेढ़े आँगन नाँच | |

    उत्तर देंहटाएं
  2. आपकी उत्कृष्ट प्रस्तुति का लिंक लिंक-लिक्खाड़ पर है ।। त्वरित टिप्पणियों का ब्लॉग ॥

    उत्तर देंहटाएं
  3. शिक्षा की सार्थकता है भी तभी.....

    उत्तर देंहटाएं
  4. जीवन है एक खेल...कोई पास कोई फेल...
    अब दो और दो पाँच भला किसे पता :-)

    सादर
    अनु

    उत्तर देंहटाएं
  5. जिसे तर्कों से
    हल किया जा सके
    बिना प्रतिस्पर्धा के
    हार-जीत के बिना
    जीवन एक खेल
    है खिलाडियों का
    जिसमे दो और दो
    चार नहीं
    दो और दो पांच
    भी होते है …

    जीवन की सही व्याख्या की है आपने.

    रामराम.

    उत्तर देंहटाएं
  6. शिक्षा मन पर
    भार नहीं
    अहंकार का
    ब़ोझ न हो
    चाहिए थी
    सही कही... सही माएने में शिक्षित को अहंकार नहीं होना चाहिए....

    उत्तर देंहटाएं
  7. इस टिप्पणी को लेखक द्वारा हटा दिया गया है.

    उत्तर देंहटाएं
  8. चाहिए थी
    एक ऐसी ही
    पाठशाला मुझको
    खेल-खेल में
    समझाये सबको
    ...
    जीवन की डोर हाथ से कब छुट जाए किसी को नहीं पता मगर हम सब लोग इसे याद नहीं रखना चाहते , हँसते खेलते यह गिने चुने दिन कट जाएँ , तभी शुभ माना जाए !

    मंगल कामनाएं आपको !

    उत्तर देंहटाएं
  9. 'दो और दो पांच' हार्दिकता को दिखाता है। जीवन कोई गणित है नहीं, उसमें तो हृदय से सोचना पढता है। इन्हीं भावों का प्रकटिकरण करती सार्थक कविता।

    उत्तर देंहटाएं
  10. सुमन,सच बहुत ही बढिया जीवन दर्शन समझाया ।

    उत्तर देंहटाएं
  11. और हार जीत की चिंता किए बगैर यह खेल खेलने
    का मजा ही कुछ और होता है
    सादर !

    उत्तर देंहटाएं
  12. जीवन के गणित को सीधे से हल नहीं कर सकते ... बहुत सी पेच होते हैं ...
    इसको खेलना ही होता है ...

    उत्तर देंहटाएं