शनिवार, 7 जुलाई 2012

समय तेज गति से भाग रहा है !


ऐसे बैंक की कल्पना कीजिए, जो आपके खाते में प्रतिदिन ८६,४००/- जमा करता हो ! इस खाते में अगले दिन के लिए कोई राशी शेष नहीं रहती हो ! यह आपको पूरी रकम खर्च करने की अनुमति देता है तथा दिनभर में खर्च न की गई रकम को प्रत्येक शाम समाप्त कर देता हो ! तब आप क्या करेंगे ?
निश्चित रूप से आप सारा धन नीकाल लेंगे ! हम सभी के पास ऐसा बैंक है ! इसका नाम "समय" है ! प्रतिदिन सुबह आपके जीवन में ८६,४०० सेकेण्ड समय जमा हो जाता है ! इसमें से जितना समय आपने भले काम में खर्च नहीं किया, उसे प्रत्येक शाम को हानि के रूप में खाते में से हटा दिया जाता है ! इसमें कुछ भी शेष या अतिरिक्त नहीं रहता ! प्रतिदिन सुबह आपका एक नया खाता खोला जाता है !
प्रत्येक शाम आपका दिनभर का सारा रिकॉर्ड समाप्त कर दिया जाता है ! दिनभर के लिए जमा इस धन का यदि आप उपयोग नहीं कर पाते, तो नुकसान आपका है !
इसमें वापस नहीं जा सकते, यानि भूतकाल में जाने की कोई व्यवस्था नहीं है ! इसमें आने वाले कल का या भविष्य के लिए भी कोई व्यवस्था नहीं है ! आपको दिनभर के लिए जमा राशी के अनुसार वर्तमान में जीना है ! इसका निवेश इस तरह करे क़ि आपको स्वस्थ,सुख और सफलता हासिल हो !   
"समय तेज गति से भाग रहा है ! अपने समय का अधिकतम उपयोग करे"


                                                                                                             साभार .......

14 टिप्‍पणियां:

  1. बहुत सुन्दर बात कही आपने सुमन जी....
    जीवन पूरी तरह जीना चाहिए...एक एक पल खुल कर खर्च किया जाय...
    सादर
    अनु

    उत्तर देंहटाएं
  2. बिल्कुल सही बात है
    हम अपना समय खर्च करते जा रहे हैं
    कल को जब बेहतर काम करने की बारी आएगी तो पता चला कि अब तो समय ही नहीं बचा है।
    अभी से जुटना होगा अच्छे काम में

    उत्तर देंहटाएं
  3. बिलकुल सही कहा आपने ...पूरी तरह से सहमत

    उत्तर देंहटाएं
  4. समय का सदुपयोग करे, नही डालिए झोल
    वापस फिर नहि मिलगे,समय बड़ा अनमोल,,,,

    RECENT POST...: दोहे,,,,

    उत्तर देंहटाएं
  5. आपकी किसी नयी -पुरानी पोस्ट की हल चल कल रविवार को 08 -07-2012 को यहाँ भी है

    .... आज हलचल में .... आपातकालीन हलचल .

    उत्तर देंहटाएं
  6. आह! बेहतरीन॥ बहुत कम शब्दों में आपने जीवन का लक्ष्य आपने बता दिया।

    उत्तर देंहटाएं
  7. वाह !!!समय के महत्व को एक अलग ढंग से व्यक्त करती सार्थक रचना।

    उत्तर देंहटाएं
  8. बेशक़ीमती बात,हालांकि सुख और सफलता की कामना ही मन के भूत या भविष्य में जाने का कारण बनती है।

    उत्तर देंहटाएं
  9. बहुत सुंदर तरीके से समय की राशि के सदुपयोग की बात आपने समझा दी है. आभार सुमन जी.

    उत्तर देंहटाएं
  10. अति सुन्दर ... सही तरीके से अपनी बात को सामने रखा है जो आसानी से समझी जा सकती है ... समय का सदुपयोग करना जरूरी है ....

    उत्तर देंहटाएं